राजस्थान में 6 जुलाई मानसून आएगा, भारत मे 40 जिलो में पड़ेगा सूखा

भीलवाड़ा/ सन 2018 में उत्तम वर्षा के योग है सम्पूर्ण भारतवर्ष में होगी आनुपातिक अच्छी वर्षा कहीं कहीं खण्डव्रष्टि के योग बनेंगे । कुल 640 जिलों में से 500 जिलों में बहुतअच्छी वर्षा 100 जिलों में मध्यम अच्छी 40 जिलों में सुखा व खण्डव्रष्टि होगी । यह कहना है ज्योतिष नगरी कारोई के ज्योतिष पण्डित गोपाल उपाध्याय का । उपाध्याय ने बताया कि पूर्वी व उत्तरी भारत में अत्तिव्रष्टि व बाढ़ से होगी जन धन हानि वहीं दक्षिण भारत के केरल कर्नाटक तमिलनाडु गोवा व तटिय क्षत्रों में बाढ़ व चक्रवात से होगा जन जीवन अस्त व्यस्त व कुछ जगहों पर जनधन की हानि उठानी पड़ेगी वहीँ पुर्वी भारत के आसाम बंगाल त्रिपुरा मेगालय उड़ीसा मिजोरम बिहार आदि क्षत्रों में अत्तिव्रष्टि व बाढ़ आयेगी बाढ़ का सबसे ज्यादा खतरा रहेगा वहीं उत्तरी भारत में जम्मु कश्मीर व उत्तराखण्ड व हिमाचल में अच्छी वर्षा के साथ बाढ़ व भुस्खलन व बादल फटने के योग बनें हैं कुछ क्षेत्रों में जन धन हानि होवे वहीं मध्य भारत में अच्छी वर्षा होगी लेकिन महाराष्ट्र के विदर्भ व राजस्थान के कुछ हिस्से व मध्यप्रदेश के कुछ हिस्से खण्डव्रष्टि के शिकार हो सकते हैं 22जुन से सूर्य आद्रा में प्रवेश करेगा यहीँ से वर्षा का मार्ग खुल जायेगा वर्षा का पहला दौर 18 जून से 5 जुलाई तक होगा जो कुछ पुर्वी भारत व दक्षिणी भारत में कहीं ज्यादा तो कहीं कम वर्षा होगी मध्य भारत में 6 जुलाई से 27 जुलाई के मध्य मानसून मेहरबान होकर बरसेगा व तर बतर कर देगा सम्पूर्ण भारतवर्ष में 12 जुलाई से 11 अगस्त तक निरन्तर अच्छी वर्षा होगी इस समय 12 जुलाई से 11 अगस्त के बीच पूर्वी भारत व उत्तरी भारत में बाढ़ का सबसे ज्यादा खतरा रहेगा इस वर्ष कुल वर्षा योग 11 विस्वा है जो अनुपातिक 80 से 87 प्रतिशत तक होगी ।राजस्थान में अनुपातिक वर्षा अच्छी होगी कुछ क्षत्रों में खण्डव्रष्टि के कारण कम होने के आसार वहीं भीलवाड़ा जिले में लगभग अच्छी वर्षा होगी भीलवाड़ा के पेयजल स्त्रोत मेजा बाँध में पानी की आवक 22 फीट तक होगी सम्पूर्णभारतवर्ष में खाद्यानों का उत्पादन तिलहन दलहन अनाज आदि का अनुपातिक उत्पादन अच्छा रहेगा - कान्हा सुखवाल सांगवा

Loading...